11 साल की उम्र में खिलौने बेचकर बिटकॉइन खरीदा, 21 साल की उम्र में करोड़पति बना

स्विट्जरलैंड में रहने वाले कुर्द शरणार्थी डेडवेन यूसुफ ने कभी सपने में भी नहीं सोचा था कि वह अगले 10 साल में करोड़पति बन जाएगा। लेकिन जो सपना यूसुफ ने कभी नहीं देखा था, वह क्रिप्टोकरंसी ने सच कर दिया। 11 साल की उम्र में युसूफ ने अपने खिलौने बेचकर बिटकॉइन खरीदा और महज 10 साल में 21 साल की उम्र में ही वह स्विट्जरलैंड के पहले सेल्फ मेड करोड़पति बन गए।

sold my toys to buy Bitcoin when I was 11 and now I’m a millionaire at just 21

21 वर्षीय कुर्द शरणार्थी 2003 में अपने परिवार के साथ इप्साच, बर्न भाग गया था। उन्होंने अपनी दादी की सर्जरी के लिए पैसे जुटाने के लिए, उसने ट्रेडिंग करना शुरू कर दिया था।

एक दिन ग्यारह वर्षीय डेडवेन ने एक पार्किंग स्थल में एक कालीन बिछाया और अपने निन्टेंडो, पोकेमॉन, यू-गि-ओह और पहेली सहित अपने सभी खिलौने बेच दिए, जिससे 250 स्विस फ़्रैंक (£ 200) बन गए।

उन्होंने बताया: “मैं बहुत खराब परिस्थितियों में बड़ा हुआ, हम बहुत गरीब थे और मेरी दादी को ऑपरेशन के लिए पैसे की जरूरत थी।

ऐसे बदली जिंदगी.

यूसुफ ने ब्रिटिश समाचार पत्र द सन को बताया कि उसके माता-पिता अत्‍यंत गरीब थे. वो स्विट्जरलैंड के Ipsach इलाके में रहते थे. कुछ बच्‍चे खिलौने गली में रख जाते थे. वो उन्‍हें उठा लेता और उनसे खेलता था. कई बार गरीब बच्‍चा समझकर आसपास के लोग खिलौने उपहार में दे देते थे. यूसुफ की दादी उनसे दूर रहती थी और बीमार थी. उसके माता-पिता अक्‍सर बीमारी का जिक्र किया करते और रुपए भेजने की योजना बनाते.

बेच दिए खिलौने.

एक दिन यूसुफ ने अपने सारे खिलौने बेच दिए. उसे खिलौनों के बदले 250 Swiss Francs (£200) मिले. यह राशि 20 हजार भारतीय रुपये से थोड़ी सी ज्‍यादा थी. ऐसा उसने अपनी दादी के इलाज के लिए पैसे भेजने के लिए किया. तब उसकी उम्र 11 साल थी. अपनी दादी के पास विदेश में पैसा भेजने के तरीके खोजते वक्‍त ही सबसे पहले उसने बिटकॉइन का नाम सुना.

पिता ने बिटकॉइन को बताया गेम मनी.

सबसे पहले वह पैसे लेकर एक मनी एक्‍सचेंज कियोस्‍क पर गया. वहां पर मौजूद महिला ने बिटकॉइन का नाम भी नहीं सुना था. फिर यूसुफ ने अपने पिता से इस बारे में बात की. पिता ने इसे मजाक समझा और कहा- “तुम पागल हो गए हो. रियल मनी के बदले गेम मनी लेना चाहते हो.” लेकिन यूसुफ की जिद के आगे पिता हार गए. पिता को उसने खिलौने बेचकर कमाये 250 Swiss Francs दे दिये और बदले में पिता से उनका क्रेडिट कार्ड ले लिया. क्रेडिट कार्ड से ही यूसुफ ने शुरू में €15 -€15 में 10 Bitcoins खरीदे.

इसके एक साल बाद यूसुफ ने $13.53 प्रति बिटकॉइन के हिसाब से 1000 बिटकॉइन खरीदे. 2016 में उसने 16,000 इथेरियम (Ethereum) खरीदे. हालांकि, वह 17 साल की उम्र में ही क्रिप्‍टोकरेंसी से करोड़पति बन चुका था. लेकिन उसे 2020 तक कोई कैश नहीं मिला था. 2020 में उसने क्रिप्‍टोकरेंसी को कैश किया और स्विट्जरलैंड का 21 साल का पहला सेल्‍फ-मेड करोड़पति बन गया.

Leave a Comment